Header

भारतीय सेनाओं में अफसरों की कमी - अंग्रेजी मानसिकता के लोगों के कारण
 

 
 
रक्षा मंत्री ए के एन्टोनी द्वारा भारतीय सेनाओं में अफसरों की कमी के लिए विभिन्न योजनाओं का हवाला दिया गया है जिससे देश के नौजवान सेना की ओर आकर्षित हों व सेना में नौजवानों की कमी समाप्त हो ।
सेना में वास्तविक कमी का कारण है कि एन डी ए व सी डी एस की परीक्षा में अंग्रेजी भाषा में ग्रुप डिस्कशन व साक्षात्कार लिया जाता है जिस कारण हिंदी माध्यम से पढ़े हुए बच्चे इन परीक्षाओं में सफल नहीं हो पाते । हिन्दी माध्यम से पढ़े बच्चे तुरंत अंग्रेजी बातचीत करना प्रारम्भ नहीं कर सकते । क्या कभी इन उच्चाधिकारियों ने भारत के गांवों का भ्रमण किया है जहां आज भी सुबह व सांय के समय सैकड़ों बच्चे सेना के जाने के लिए आवश्यक शारीरिक दक्षता प्राप्त करने के लिए दौड़ते दिखायी देते हैं । एसा नहीं है कि देश के लोगों ने अपने बच्चों को सेना में भेजना बंद कर दिया है अथवा देश में एक योग्य बच्चों का अभाव हो गया है जो सेना में अधिकारी बनने के योग्य न हों ।
आज यदि सरकार एसी परीक्षाओं में अंग्रेजी की अनिवार्यता समाप्त कर दे तो आवश्यकता से कई गुना भर्ती होना संभव है ।
28/01/2014
......वापिस
Footer